एकीकृत नियंत्रण और कमान केंद्र आईसीसीसी

एकीकृत नियंत्रण और कमान केंद्र आईसीसीसी

स्मार्ट सिटी हेतु मध्यप्रदेष के चयनित 7 स्मार्ट सिटीज भोपाल, इन्दौर, जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, सागर, एवं सतना के एकीकृत इंटीग्रेटेड कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर का निर्माण भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट काॅर्पोरेषन लिमिटेड के द्वारा शासन के निर्देषानुसार भोपाल शहर में किया जा रहा है। इस परियोजना का प्रमुख उद्देष्य शहर में उपलब्ध विभिन्न सुविधाओं को समाहित कर एक ही स्थान पर प्लेटफार्म प्रदाय करना है। एकीकृत कण्ट्रोल एण्ड कमांड सेंटर से परिवहन, जल, अग्नि पुलिस, मौसम विज्ञान, ई-गर्वनेंस जैसे विभिन्न विभागों से प्राप्त जानकारी का एक मंच पर समाधान और विष्लेषण किया जा सकता है। इसके अलावा संपूर्ण शहर की जानकारी प्राप्त कर विष्लेषण उपरांत जानकारी को आवष्यक कार्यवाही हेतु उपयोग कर तत्काल संबंधित को कार्यवाही हेतु प्रेषित किया जा सकता है।

शहर में लगे सभी सेंसर्स जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट बसों में लगे जीपीएस सेन्सर्स, डायल 100 वाहन की स्थिति, 108 एम्बुलेंस की स्थिति, स्मार्ट पोल एवं स्मार्ट लाईटिं, ट्रैफिक मैनेजमेंट कैमरे, पब्लिक बाईक शेयरिंग, साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट, मौसम विभाग, सोलर पैनल्स, स्मार्ट मैप इत्यादि व्यवस्थाओं एवं परियोजनाओं का डाटा यहाँ स्टोर होगा। इस सेंटर में पूरे शहर की व्यवस्थाएं एक ही छत के नीचे रियल टाईम में देखी जा सकेगीं। इस एकीकृत कण्ट्रोल एंड कमांड सेंटर से आपातकालीन स्थिति एवं आपदा प्रबंधन में तुरंत कार्यवाही करने में सहयोग मिलेगा, जैसे कि दुर्घटना या किसी अन्य आपात स्थिति में नियंत्रण कक्ष से लाइव विडियो देखकर जरूरी सेवाओं जैसे फायर बिग्रेड, डायल 100 एवं 108 एम्बुलेंस को तुरंत सूचित किया जा सकेगा। इस माॅडल के अंतर्गत शहर का डाटा, डाटा सेंटर में स्टोर किया जायेगा जिसका समय-समय पर विष्लेषण होगा। यह डाटा एनालिसिस शहर की सेवाओं के संदर्भ में विभागीय योजना बनाने एवं उनमें परिवर्तन आदि के निर्णय लेने में सहायक होगा। कुल मिलाकर न केवल शहरी प्रषासन की सेवाओं को सुचारू रूप से चलाने में महत्वपूर्ण साबित होगा बल्कि यह गर्वनेंस के लिए हर स्थिति में नियंत्रण बनाये रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उक्त कंट्रोल एण्ड कमाण्ड सेंटर का निर्माण लगभग 299 करोड़ की लागत से किया जावेगा, इस हेतु एजेंसी- मेसर्स एच.पी.ई. बैंगलौर, का चयन निविदा के माध्यम से कर लिया गया है।

परियोजना की विशेषताएं -

  • स्मार्ट सिटी के लिए जरूरत मुताबिक आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर
  • विश्वसनीयता एवं सुरक्षा में बढ़ोतरी
  • आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर का एकत्रीकरण
  • एकीकृत प्रबंधन
  • तेज क्रियान्वयन व आॅटो स्केलेबिलिटी
  • सत्य जानकारी का एकल स्त्रोत
  • शहर का इमरजेंसी और आपदा प्रबंधन प्लेटफाॅर्म
  • जीआईएस आधारित विजुअलाईजेषन
  • विभिन्न टेक्स्ट, वाईस, आॅडियो, स्मार्ट सेंसर्स का कम्युनिकेषन इंटरफेस
  • विडियो वाॅल
  • तकनीकी सहायता टीम
  • नेटवर्क तथा सुरक्षा कंपोनेंट्स
  • विडियो स्टोरेज के लिए सर्वर रूम
  • अलर्ट मैनेजमेंट
  • मैप बेस्ड विजुअलाईजेषन

आॅपरेटर कंसोल -

  • स्मार्ट पार्किंग
  • डायल 100
  • सोलर रूफ टाॅप प्रोजेक्ट स्मार्ट पोल एवं स्ट्रीट लाईट
  • डायल 108 एवं जननी एक्सप्रेस
  • फायर बिग्रेड कण्ट्रोल सिस्टम
  • स्मार्ट मैप (जीआईएस)
  • ठमरजेंसी रेस्पाॅन्स एवं डिजास्टर मैनेजमेंट
  • एमईटी डिपार्टमेंट
  • भोपाल प्लस एप
  • इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम
  • एरिया बेस्ड डेवलपमेंट (एबीडी) सर्विसेज
  • ट्रैकिंग आॅफ साॅलिड वेस्ट
  • वाॅटर मैनेजमेंट सिस्टम
© 2018 BSCDCL. All Rights Reserved.